ट्रेविस हेड

WTC Final : विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के 2021-23 चक्र का अंतिम मैच इंग्लैंड के द ओवल में खेला जा रहा है। टेस्ट चैंपियन बनने के लिए भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें आमने-सामने हैं। पहले दिन का खेल खत्म होने पर ऑस्ट्रेलिया ने तीन विकेट पर 327 रन बना लिए हैं और खिताबी मुकाबले में बेहतर स्थिति में है। ऑस्ट्रेलिया के लिए ट्रैविस हेड ने 146 और स्टीव स्मिथ ने 95 रन की पारी खेली।

भारत ने 76 रन पर ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट गिरा दिए थे। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए ट्रैविस हेड ने तेजी से रन बनाए और अपनी टीम को काफी मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। इस मैच में शतक लगाने के साथ-साथ ट्रैविस हेड ने कई रिकॉर्ड अपने नाम किए। वह वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। टेस्ट चैंपियनशिप के पहले फाइनल में कोई भी बल्लेबाज शतक नहीं लगा पाया था। मौजूदा समय में टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में सबसे बड़ा स्कोर भी हेड के नाम है. वह अब भी नाबाद हैं और उनके पास दूसरे दिन दोहरा शतक लगाने का मौका होगा।

सचिन और क्लाइव लॉयड के क्लब में शामिल  

ट्रैविस हेड भी आईसीसी टूर्नामेंट के नॉकआउट मैच में पहला शतक लगाने वाले बल्लेबाजों की सूची में शामिल हो गए हैं। वनडे वर्ल्ड कप के नॉकआउट मैच में पहला शतक वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज क्लाइव लॉयड ने लगाया था। वहीं, चैंपियंस ट्रॉफी के नॉकआउट मैच में पहला शतक भारत के सचिन तेंदुलकर के बल्ले से निकला। अब ट्रैविस हेड ने टेस्ट चैंपियनशिप का पहला शतक लगाया है।

आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में सबसे बड़ी साझेदारी

इस मैच में ट्रैविस हेड और स्टीव स्मिथ ने चौथे विकेट के लिए 251 रन की पार्टनरशिप की। इसी के साथ इस जोड़ी ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है. यह किसी आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले 2003 विश्व कप में एडम गिलक्रिस्ट और मैथ्यू हेडन ने भारत के खिलाफ नाबाद 234 रन की साझेदारी की थी। अब स्मिथ और हेड के पास मैच के दूसरे दिन इस साझेदारी को बढ़ाने का मौका होगा.

Previous articleआपने OYO नाम तो होटलों पर पढ़ा होगा, लेकिन क्या आप इसका फुल फॉर्म जानते हैं?
Next articleChatGPT के निर्माता ‘सैम ऑल्टमैन’ आज दिल्ली के इंद्रप्रस्थ संस्थान में छात्रों को करेंगे संबोधित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here