Sania Mirza Retirement : सानिया मिर्जा ने अचानक किया संन्यास का ऐलान, आखिरी बार इस बड़े टूर्नामेंट में आएंगी नजर

124
sania-mirza

Sania Mirza Retirement : भारत की महान टेनिस खिलाड़ियों में से एक सानिया मिर्जा ने अंतरराष्ट्रीय टेनिस से संन्यास लेने का फैसला किया है।

पूर्व युगल नंबर एक सानिया मिर्जा 19 फरवरी से शुरू होने वाली डब्ल्यूटीए 1000 प्रतियोगिता दुबई टेनिस चैंपियनशिप के बाद टेनिस से संन्यास ले लेंगी। वह पिछले कुछ समय से चोट से जूझ रही हैं। उन्होंने भारत के लिए 6 ग्रैंड स्लैम खिताब जीते हैं।

आखिरी मैच दुबई में खेलेंगी

भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा (India’s tennis star Sania Mirza) फरवरी में दुबई टेनिस चैंपियनशिप (Dubai Tennis Championships) में अपना आखिरी मैच खेलेंगी। इसके बाद वह टेनिस को अलविदा कह देंगी। उनके संन्यास की घोषणा करते ही प्रशंसकों में मायूसी की लहर दौड़ गई है।

sania-mirza

36 साल की सानिया मिर्जा ने पहले ही कहा था कि वह 2022 के अंत में संन्यास की घोषणा करेंगी, लेकिन चोट के कारण वह साल के आखिरी 6 महीनों में किसी भी टूर्नामेंट में नहीं खेल सकीं। वह पिछले कुछ समय से चोट से परेशान हैं। कोहनी की चोट के कारण वह यूएस ओपन से बाहर हो गई थीं।

भारत के लिए 6 ग्रैंड स्लैम जीते

सानिया मिर्जा पिछले 10 साल से दुबई में रह रही हैं। सिंगल्स कैटेगरी में उनकी सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग 2005 में 27 रही है, जब वह यूएस ओपन के चौथे दौर में पहुंचने में सफल रही थीं। इसके बाद उन्होंने भारत के लिए 6 ग्रैंड स्लैम खिताब जीते हैं।

उन्होंने डबल्स में ऑस्ट्रेलियन ओपन (2016), विंबलडन (2015) और यूएस ओपन (2015) खिताब जीते हैं। इसके अलावा उन्होंने मिक्स्ड डबल्स में तीन ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन (2009), फ्रेंच ओपन (2012) और यूएस ओपन (2014) खिताब भी जीते हैं।

सानिया मिर्जा ने यह बयान दिया

sania-mirza

Wtatennis.com से बात करते हुए सानिया मिर्जा ने कहा, 'ईमानदारी से कहूं तो मैं वह शख्स हूं जो अपनी शर्तों पर जीना पसंद करती हूं। इसलिए मैं चोट के कारण बाहर नहीं होना चाहती। इसलिए मैं अभी ट्रेनिंग ले रहा हूं। वास्तव में मेरे दिमाग में भावनात्मक रूप से इतना आगे बढ़ने की क्षमता नहीं है। ऐसे में अपने खेल को आगे बढ़ाना मुश्किल होता है।

पाकिस्तानी क्रिकेटर से की शादी

सानिया मिर्जा ने साल 2010 में पाकिस्तान के मशहूर क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी की थी। लेकिन उन्होंने भारत के लिए खेलना जारी रखा। शादी के बाद वह दुबई शिफ्ट हो गईं। उनका एक बेटा भी है, जिसका नाम इजहान है।

भारत की ओर से यह पुरस्कार प्राप्त किये

सानिया मिर्जा को अर्जुन पुरस्कार (2004), पद्म श्री पुरस्कार (2006), राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार (2015) और पद्म भूषण पुरस्कार (2016) से भी सम्मानित किया गया है। सानिया अब तक 6 बड़ी चैंपियनशिप में मेडल जीत चुकी हैं।